Fixed Deposit कैसे काम करता है ?

0

Hi Friends तो कैसे है आप सब । उम्मीद है आप सब स्वस्थ होंगे । तो दोस्तों आज हम बात करने जा रहे है Fixed Deposit के बारे में जैसा की आप सब को पता है की आज कल लोग की रुचि  इन्वेस्टमेंट ( Investment ) की ओर तेजी से बढ़ रही है । 

लोग आज कल अपने पैसे को स्टॉक मार्किट ( Stock Market ) म्यूच्यूअल फण्ड ( Mutual Fund ) क्रिप्टो करेंसी ( Cryptocurrency ) इत्यादि में निवेश Invest कर रहे है पर कई लोग इन क्षेत्रों में निवेश नहीं करना चाहते ।

 तो आज हम उन लोगों के लिए एक  नए क्षेत्र में इन्वेस्ट करने के संबंध में आर्टिकल लेकर आये हैं । 

यदि आप स्टॉक मार्किट ,म्यूच्यूअल फण्ड , क्रिप्टो करेंसी इत्यादि के बारे में ज्ञान लेना चाहते है तो हमारी वेब साइट Capitalgyan.com पर इन सभी के आर्टिकल्स उपलब्ध हैं । 

आज के इस आर्टिकल में हम जानेंगे की फिक्स्ड डिपॉजिट  ( Fixed Deposit ) क्या होता है ? फिक्स्ड डिपॉजिट कैसे काम करता है ? फिक्स्ड डिपॉजिट में क्यों निवेश करें? और भी बहुत कुछ ।  

फिक्स्ड डिपॉजिट क्या होता है ( What is Fixed Deposit )

फिक्स्ड डिपॉजिट को लोग Shot में  ( FD ) कहते हैं  । 

FD निवेश करने का एक आसान तरीका है । सरकार , बैंक और डाकघर फिक्स्ड डिपॉज़िट जैसे इन्वेस्टमेंट सुविधाओं को प्रदान करतीं हैं ।   

सामान्यतः फिक्स्ड डिपॉज़िट एक निर्धारित समय तक पैसा को  जमा करना होता है जिसे फिक्स्ड डिपॉज़िट कहते हैं । 

यदि सामान्य शब्दों में कह जाये तो अगर आप के पास पैसा है और आप उसे कहीं और इन्वेस्ट नहीं करना चाहते है और उस पैसे को बैंक में पड़ा हुआ है । 

आप का पैसा बैंक में पड़ा है आप को उससे  कुछ लाभ नहीं मिलता है  तो कई लोग अपने उस पैसे को फिक्स्ड डिपॉज़िट में इन्वेस्ट करते हैं जिससे उन लोगों को  FD  समय पूरा होने पर उन्हें ब्याज  Interest के रूप  में Returns मिलता है । 

फिक्स्ड डिपॉज़िट करने से पहले ही निवेशकों को पता चल जाता है की उन की FD पूरा होने पर उन्हें कितना Returns लाभ  मिलने वाला है निवेशक ये भी अंदाजा लगा लेता है की उस की FD कितने वर्षों में पूरी हो जाएगी । 

फिक्स्ड डिपॉज़िट कैसे काम करता है ( How Does the work Fixed Deposit ) 

जैसा की मैंने आपको ऊपर बताया की लोग म्यूच्यूअल फण्ड , स्टॉक मार्किट में इन्वेस्ट ज्यादातर कर रहे है परन्तु आज भी लोगो में फिक्स्ड डिपॉज़िट के प्रति विश्वास काम नहीं हुआ है क्यों की फिक्स्ड डिपॉज़िट एक सुरक्षित निवेश Investment माना  जाता है । 

फिक्स्ड डिपॉज़िट में हम काम से काम 1000 रूपए से अपना फिक्स्ड डिपाजिट डिपॉज़िट Account ओपन कर सकते हैं और जयदा धन राशि में फिक्स्ड डिपॉज़िट करवानी की कोई सीमा नहीं है । 

फिक्स्ड डिपॉज़िट की काम से काम समय अवधि 7 दिन की समय अवधि होती है और ज्यादा समय अवधि की कोई सीमा नहीं होती है परन्तु लोग 10 से 15 नवर्ष तक की ही FD करवाते हैं । 

बैंक निवेशकों Investors के धन को इकट्ठा कर लेता है और फिर वह समाज में जरूरतमंद  व्यक्ति को ऋण Loan प्रदान करता है और उस के बदले उनसे व्याज लेता है । 

बैंक को ऋण दाताओं से मिले  ब्याज में से तय व्याज दर फिक्स्ड डिपॉज़िट में निवेश किये हुए निवेशक को दे देती है और बाकि अपने पास रख लेती है । 

फिक्स्ड डिपॉज़िट में Returns मासिक , तीन महीने या वार्षिक आधार पर मिलता है । हर बैंक फिक्स्ड  डिपॉज़िट का आधार अलग अलग होता है । 

Fixed Deposit में क्यों निवेश करें ?

भारत में कई वर्षों से फिक्स्ड डिपॉज़िट को एक सुरक्षित Safe निवेश Investment माना जा रहा है । 

FD  में हमें इस लिए निवेश करना चाहिए क्यूंकि हमें Returns का पहले से ज्ञान होता है।  FD  में यह पहले से ही पता होता है की FD का तय वर्ष पूरा होने पर कितने व्याज दर से Return मिलेगा । यह व्याज दर पहले से ही  तय होता है । 

फिक्स्ड डिपॉज़िट में निवेशकों के धन के डूबने के संका बहुत कम होती हैं और फिक्स्ड डिपॉज़िट को 100 % सुरक्षित निवेश कहा जाता है । 

इसमें निश्चित धन राशि के आधार पर तय व्याज दर के अनुसार निश्चित समय में निवेशकों का धन डबल हो जाता है । 

Fixed Deposit Account कैसे ओपन करे 

फिक्स्ड डिपॉज़िट अकाउंट Open करने का सामान्यतः दो तरीका /माध्यम है । जिस से हम अपना अकाउंट ओपन कर सकते है । 

( 1 ) Online ऑनलाइन 

( 2 ) Offline ऑफलाइन 

 Online ऑनलाइन 

ऑनलाइन फिक्स्ड डिपॉज़िट अकाउंट ओपन अकाउंट हैंडलिंग का आसान तरीका है । 

अब का समय हर काम डिजिटल या ऑनलाइन हो रहा है इसी तरह फिक्स्ड डिपॉज़िट अकाउंट भी ऑनलाइन ओपन कर सकते है और घर बैठे उसे हैंडल कर सकते हैं । 

फिक्स्ड डिपॉज़िट अकाउंट ओपन करने के लिए हमें सब से पहले जिस बैंक में फिक्स्ड डिपॉज़िट Fixed Deposit करने जा रहे हैं उस बैंक में आप का सेविंग अकाउंट होना आवश्यक है यदि आप के पास Saving Account  नहीं है तो पहले उस बैंक का सेविंग अकाउंट ओपन करे । 

फिर उसके बाद निवेशकों के पास एक और महत्वपूर्ण कार्य होता है निवेशकों को जिस बैंक में Fixed Deposit अकाउंट ओपन करना है उस बैंक की नेट बैंकिंग की सुविधा प्राप्त करनी होगी जिस से वह फिक्स्ड डिपॉज़िट के विकल्प में जा कर फिक्स्ड डिपॉज़िट जमा कर सके और अकाउंट ओपन कर सके । 

Offline ऑफलाइन 

फिक्स्ड डिपॉज़िट में ऑफलाइन Account ओपन करना है तो हमें सब से पहले सरकारी बैंक, प्राइवेट  बैंक या फिर पोस्ट ऑफीस में जाना होता है बैंक में जा कर हमें पहले फिक्स्ड डिपॉज़िट FD का एक फॉर्म form लेना होगा । 

फॉर्म में पूछी गयी सभी विवरणों को भरना होगा और  निवेशकों को किस प्रकार का फिक्स्ड डिपॉज़िट FD करना है कितने Returns मिलेंगे सब जानकारियां प्राप्त करने के बाद उस फ्रॉम को बैंक में जमा कर दे । 

फिक्स्ड डिपॉज़िट ऑफलाइन अकाउंट ओपन करने के लिए सेविंग Account की आवश्कता नहीं होती है । 

Fixed Deposit में कितने Returns मिलते हैं 

फिक्स्ड डिपॉज़िट में Returns अलग अलग है Senioor Citizens का व्याज दर और सामान्य लोगो का व्याज दर अलग अलग होता है । 

फिक्स्ड डिपॉज़िट में सीनियर सिटीजन्स को ज्यादा से ज्यादा Maximum 9.75 % व्याज दर होता है और कम से कम Minimum 6.75 % होता है । 

और फिक्स्ड डिपॉज़िट FD में सामान्य नागरिकों को ज्यादा से ज्यादा Maximum 8.35 % व्याज दर प्राप्त होता है और कम से कम Minimum 6.25 % मिलता है ।

हर बैंक का FD  ब्याज दर अलग अलग होता है और अलग अलग समय अवधि होती है । 

Fixed Deposit के क्या फायदे होते हैं  

यह Investment का एक ऐसा माध्यम है जिस में कोई जोखिम  फिक्स्ड डिपॉज़िट में निवेशकों का धन सुरक्षित होता है । 

FD स्टॉक मार्किट , म्यूच्यूअल फण्ड जैसे क्षेत्रों में स्टॉक्स का उतार चढ़ाओ का कोई हिसाब नहीं होता है इस में निवेशकों को कितने Returns  मिलेंगे उन्हें पहले से पता होता है । 

FD लोगो का धन को सुरक्षित रखने के साथ साथ निवेशकों को एक अच्छा  खासा व्याज दर प्रदान करता है । फिक्स्ड डिपॉज़िट  में तय व्याज दर और निश्चित  अवधि के आधार पर निवेशकों की धन राशि दोगुनी Double हो जाती है । 

इसको भारत में लोग ज्यादा तर अपने भविष्य के लिए या फिर अपने भावी पीढ़ी के अच्छे भविष्य के इस्तेमाल के लिए जमा करते हैं  और भविष्य में फिक्स्ड डिपॉज़िट के धन का आनंद लेते हैं । 

Fixed Deposit Account खोलने के जरूरी Documents 

Aadhar Card  आधार कार्ड 

Pan Card पैन कार्ड 

Voter Card वोटर कार्ड 

Passport Size Photo पासपोर्ट साइज  फोटो 

Address Proof एड्रेस प्रूफ 

Saving Account   सेविंग अकाउंट 

हर बैंक के फिक्स्ड डिपॉज़िट अकाउंट ओपन करने के अलग अलग डाक्यूमेंट्स Requirments होती है । 

Conclusion 

तो Friends  यह  आर्टिकल  पोस्ट हमें फिक्स्ड डिपॉज़िट  के बारे में सम्पूर्ण ज्ञान प्रदान करता है हमें इस आर्टिकल से पता चलता है की….

फिक्स्ड डिपॉज़िट क्या होता है ? 

यह कैसे काम करता है ? 

इसमें क्यों निवेश करें ? 

इसका अकाउंट कैसे ओपन करें ? 

Online Account ओपनिंग Method 

Offline Account ओपनिंग Method ? 

फिक्स्ड डिपॉज़िट में मिलने वाला व्याज दर 

फिक्स्ड डिपॉज़िट के क्या फायदे होते हैं ? 

FAQS

(1) FD क्या होता है ? 

सामान्यतः फिक्स्ड डिपॉज़िट एक निर्धारित समय तक पैसा को  जमा करना होता है जिसे फिक्स्ड डिपॉज़िट कहते हैं । 

(2) स्टॉक मार्किट क्या होता है ? 

स्टॉक मार्किट एक प्रकार का बाजार है जिस निवेशक अपने पैसे को इन्वेस्ट Invest करता है । 

निवेशक कंपनियों के स्टॉक्स के रेट कम होने पर  उस कंपनी के स्टॉक्स खरीद लेता है और रेट बढ़ने पर  उसे बेच देता है । 

(3) Mudra Loan क्या है ? 

यह एक प्रकार का व्यापारियों को उनके Business को बढ़ाने के लिए वित्तीय सहायता लोन है । 

सरकार छोटे व्यापारियों के Business खोलने या पुराने Business को बढ़ाने के लिए मुद्रा लोन देती है ।  

(4) डीमैट अकाउंट खोलने से क्या फायदा होता है?

डीमैट से आपके सारे दस्तावेज सुरक्षित रहते हैं, आप ट्रेडिंग से जुड़े धोखाधड़ी के नुकसान से भी राहत मिलती है इससे आप आसानी से लोन भी ले सकते हैं। और ऑनलाइन ट्रेडिंग से समय की काफी बचत होती है। आप आसानी से शेयर्स को ट्रैक कर सकते हैं। यदि आप भी शेयर बाजार की यात्रा शुरू करना चाहते हैं, आज अपना डीमैट खाता खोलें।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.